पटना के सोनू और अरवल की ज्योति ने किया टॉप…., जानें काउंसलिंग का शेड्यूल

पटना के सोनू और अरवल की ज्योति ने किया टॉप…., जानें काउंसलिंग का शेड्यूल

सीईटी-बीएड प्रवेश परीक्षा-2020 का परिणाम गुरुवार की शाम घोषित कर दिया गया। परीक्षा में 96.6 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए हैं। छात्रों में पटना का सोनू कुमार और छात्राओं में अरवल की ज्योति कुमारी टॉपर बनी हैं। प्रवेश परीक्षा में 94 हजार 676 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 91 हजार 495 उत्तीर्ण हुए हैं।

परीक्षा के स्टेट नोडल ऑफिसर प्रो. अजीत कुमार सिंह ने बताया कि तीन अक्टूबर से 23 नवंबर तक काउंसिलिंग होगी। इसमें छात्रों को अपने कॉलेज का विकल्प देना होगा। छात्रों के च्वाइस के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। कॉलेज जिस विश्वविद्यालय से संबद्ध होगा, वहां छात्रों के प्रमाणपत्र की जांच होगी।

संबंधित विश्वविद्यालय की ओर से अग्रसारित करने के बाद छात्र को अपने कॉलेज में जाकर दाखिला कराना होगा। इन तीन चरणों के बाद दाखिला पूरा होगा। सीटें खाली रहने पर दो बार और मेरिट लिस्ट जारी होगी। इसके बाद भी सीटें बचती हैं तो स्पॉट का विकल्प होगा। परीक्षाफल के आधार पर 35 हजार रेगुलर मोड में, एक हजार डिस्टेंस मोड में तथा शिक्षा शास्त्र में सौ सीटों के लिए नामांकन होगा। परीक्षा का परिणाम 30 सितंबर को आना था, पर कुछ कारणों से इसमें एक दिन की देरी हुई। इस परीक्षा के लिए ललित नारायण मिथिला विवि को नोडल बनाया गया है।

विश्वविद्यालय की ओर से स्पष्ट कर दिया गया है विश्वविद्यालय काउंसिलिंग के बाद जिसे एलॉटमेंट लेटर देगा, उन्हीं का नामांकन कॉलेजों को लेना है। बिना एलॉटमेंट लेटर नामांकन लेने वाले कॉलेज व छात्र दोषी होंगे। इसपर विश्वविद्यालय कुछ भी विचार नहीं करेगा।