देर न कर दें आप, इन संकेतों से समझ जाएं रिलेशनशिप में कम हो रहा है प्यार

बढ़ने लगी हैं गलतफहमियां


बढ़ने लगी हैं गलतफहमियां

काफी समय साथ बिता लेने के बाद कई कपल्स के बीच में कम्युनिकेशन गैप बढ़ जाता है। रिश्ते में दरार आने का ये अहम कारण है। आपके और पार्टनर के बीच में समय समय पर बातचीत होती रहनी चाहिए। आप दोनों जब अपनी बातें शेयर करना बंद कर देते हैं तब रिलेशनशिप में गलतफहमियां जगह बनाने लगती हैं। आपको जब इस तरह की स्थिति दिखने लगे तब इसे दूर करने के लिए अपने पार्टनर से खुलकर बात करें।

पार्टनर का ख्याल न रखना

पार्टनर का ख्याल न रखना

आमतौर पर रिश्ते के शुरूआती चरण में हर पार्टनर अपने साथी का अच्छी तरह से ख्याल रखते हैं। कभी ऐसा हो सकता है कि कामकाज की भागदौड़ में वो आपका ध्यान नहीं रख पाते हैं तो इसमें चिंता की कोई बात नहीं है। मगर कई मौकों पर आपने ये नोटिस किया है कि जरुरत के समय आपके पार्टनर का रवैया पहले की तरह केयरिंग नहीं है तो आपको ध्यान देने की जरुरत है। उनकी जिंदगी में आपकी अहमियत कम हो रही है तो इस बात को समय रहते समझ जाएं और नजदीकी बढ़ाने के लिए अपने तरीके से प्रयास करें।

भावनात्मक लगाव का कम होना

भावनात्मक लगाव का कम होना

रिलेशनशिप में जब एक दूसरे के लिए भावनात्मक लगाव कम हो जाता है तब वह रिश्ता नीरस होने लगता है। ऐसे रिश्ते में लोगों को अपने पार्टनर की परवाह नहीं रहती है। इमोशंस रिश्तों में जान डालते हैं। लोग अपने पार्टनर से तब दूर होने लगते हैं जब रिश्ते में प्यार खत्म होने लगता है। ध्यान दें कि आप अपने पार्टनर के दिल से दूर न हुए हों और बढ़ती दूरियों की वजह भी तलाश करें।

भूलने लगना प्यार जताना

भूलने लगना प्यार जताना

लोग जब रिश्ते में प्रैक्टिकल हो जाते हैं तब वो अपनी भावनाओं को व्यक्त करना समय की बर्बादी समझने लगते हैं। एक रिलेशनशिप नन्हे पौधे की तरह होता है जिसे समय समय पर प्यार और अपनापन मिलने से वो भविष्य में आने वाले संकटों से बचने के लिए तैयार होता है। अकसर ये देखा जाता है कि कपल्स शुरुआत में तो एक दूसरे के प्रति खूब लगाव दिखाते हैं मगर आगे चलकर वो अपने दिल में छिपी भावनाओं को जाहिर करना भूल जाते हैं। उनकी ये आदत रिश्ते को कमजोर करने लगती है। समय रहते हुए आप छोटे छोटे तरीकों से जता सकते हैं कि आपके दिल में अपने पार्टनर के लिए कितनी मोहब्बत है।



Source link