दिल्ली पुलिस का ”Tatpar” ऐप तत्काल दिलाएगा 100 समस्याओं से छुटकारा!

दिल्ली पुलिस का ''Tatpar'' ऐप तत्काल दिलाएगा 100 समस्याओं से छुटकारा!


नयी दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने बुधवार को दिल्ली पुलिस द्वारा विकसित ‘तत्पर’ ऐप की शुरूआत की। पुलिस ने बताया कि यह ऐप इंडिया गेट पर जारी किया गया जहां दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक और सरकार तथा पुलिस के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें: इन आसान टिप्स से करें कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इस ऐप में दिल्ली पुलिस की सभी वेबसाइट और मोबाइल ऐप को समाहित किया गया है। इस ऐप के जरिए 50 से ज्यादा सेवाओं का लाभ लिया जा सकता है। इस ऐप के जरिए व्यक्ति को नजदीकी थाने और प्रीपेड टैक्सी बूथ की जानकारी मिल सकती है। इसके अलावा इसके जरिए स्थानीय थाने के थानेदार का पूरा संपर्क विवरण मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें: अगर आप में हैं ये लक्षण तो आप भी हैं डिप्रेशन के शिकार

दिल्ली वासियों की सुरक्षा और सुविधा के लिए इस ऐप को दिल्ली पुलिस ने काफी फायदेमंद बताया है। इस ऐप के जरिए आप आसानी से अपने वाहन या किसी भी क्राइम से जुड़ी जानकारी का पता लगा सकते हैं। एक ही किल्क पर आप 50 से ज्यादा जानकारी चुटकी में जान पाएंगे और इस ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलो़ड भी कर सकते हैं। तो इस तरह चौकियों के धक्के लगाने से आप को छुट्टी मिल गई है क्योंकि तत्पर ऐप अब आपको घर बैठे देगा सारी जानकारी।

क्या है तत्पर ऐप?

तत्पर दिल्ली पुलिस एक मोबाइल एप्लिकेशन है जो पुलिस द्वारा दी जाने वाली सभी सेवाओं को दिल्लीवासियो तक पहुंचाने के लिए मदद करेगा।

कैसे इस्तेमाल करें तत्पर ऐप?

नेविगेशन के द्वारा आप एक सिंगल टच में ही पुलिस स्टेशन का पता लगा सकते हैं और साथ ही पुलिस स्टेशन का नाम, SHO का नाम, SHO का मोबाइल नंबर, पुलिस स्टेशन का लैंडलाइन नंबर और पुलिस स्टेशन का ई-मेल आईडी भी दिखाई जाएगी। आपातकालीन स्थिति में आपको, पास के किसी पुलिस स्टेशन के बारे में किसी से भी पूछने की आवश्यकता नहीं होगी। बता दें कि इस ऐप का 

एक और हाइलाइटिंग फीचर हैं- ऐप का स्क्रीन टॉप पर दिया गया SOS बटन। यह लोगों को एमरजेंसी (एसओएस) पर तुरंत कॉल करने की भी सुविधा देगा। 

इसे भी पढ़ें: गंभीर अवसाद को भी सामान्य तनाव मानकर नजरअंदाज न करें, जानें इसके लक्षण

क्या-क्या है सुविधा?

1- इस ऐप के जरिए आप पुलिस स्टेशन का रास्ता पता कर सकते हैं। SHO की पूरी जानकारी जैसे फ़ोटोग्राफ़, नाम, कॉल साइन, मोबाइल नंबर, लैंडलाइन नंबर। इसके अलावा इस ऐप के माध्यम से आप यह भी पता कर सकते हैं कि आपके सबसे नजदीक कौन सा पुलिस स्टेशन है और कितनी दूरी पर है। 

2- इस ऐप में लाल रंग का एक SOS बटन है जिसे दबाने पर 2 डायल बटन दिखेंगे जैसे – कॉल 100 यानी कि पुलिस का नंबर और दूसरा SOS यानी कि एमरजेंसी कॉल। एमरजेंसी के वक्त आप किसी भी दो नंबर को डायल कर सकते हैं। इसमें आप एक मैसेज और 20 सेकंड का वीडियो बना कर या तो पुलिस नहीं तो अपने एमरजेंसी कॉलर को भेज सकते हैं।

3- इस ऐप के जरिए आप ट्रैफ़िक इंस्पेक्टर का नाम, फोन नंबर भी पता कर सकते हैं।

4- मोबाइल चोरी, शिकायत दर्ज करना, वाहन चोरी की खोज, ट्रैफिक अलर्ट, साइबर अपराध और सुरक्षा सलाह इन सबकी जानकारी मिलेगी तत्पर ऐप पर।

इसे भी पढ़ें: ज्यादा कोलेस्ट्रॉल है तो भूल से भी न खाएं ये चीज़ें, बिगड़ सकती है हालत

महिलाओं के लिए लाभदायक (हिम्मत ऐप) 

हिम्मत पुलिस राजधानी में महिला सुरक्षा को बढ़ाने के लिए दिल्ली पुलिस की एक पहल है। महिलाएं इस सेवा का उपयोग कर सकती हैं। यह एक आपातकालीन सेवा है, जिसमें एक स्मार्टफ़ोन एप्लिकेशन शामिल है जो उपयोगकर्ता को दिल्ली पुलिस के हिम्मत प्लस डैशबोर्ड और एक निश्चित व्यक्ति / ग्रुप के साथ एमरजेंसी के वक्त SOS मैसेज भेज सकता है। यह ऐप महिलाओं के लिए काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि जैसे जैसे महिलाओं के खिलाफ यौन हिंसा के केस आ रहे हैं उनको देखते हुए यह ऐप मुश्किल के वक्त में बहुत कारगर साबित हो सकता है। महिलाएं इस एप के जरिए बिना डरे अपना बचाव कर सकती हैं और तुरंत पुलिस की मदद ले पाएंगी। आशा हैं कि यह ऐप कारगर साबित हो जिससे अब किसी भी पिता को अपने बच्चे को बाहर भेजने में दो बार ना सोचना पड़े।