दांतों की कैविटी दूर करें इन घरेलू नुस्खों से

दांतों की कैविटी दूर करें इन घरेलू नुस्खों से

दांतो में कैविटी किसी भी आयु में किसी भी इंसान को हो सकती है।  दांतों की कैविटी का अर्थ है दांतो की सड़न से होने वाला छिद्र।  मुंह में एसिड बनने के कारण दांतों के इनेमल ढीले पड़ने लगते है जिसकी वजह से मुंह में कैविटी होने लगती है।  मुंह में मौजूद बैक्टीरिया दांतो में जमा होने लगते है जिसे हम प्लाक कहते है।  कैविटी के कई कारण हो सकते है उनमें से मुख्य कारण है अधिक मीठा खाना व दांतों में बैक्टेरिया होना।  अगर दांतो की कैविटी को समय रहते नहीं भरते है तो आप जो भी खाएंगे दांतो में फस जाएगा।  दांतो में ज्यादा कैविटी होने पर दांतो में अत्यधिक पीड़ा व मसूड़ों में सूजन पैदा हो जाती है।  आज हम आपको बता रहे हैं दांतो की कैविटी दूर करने के कुछ घरेलू उपचार –

नमक है फायदेमंद – नमक कैविटी के इलाज में बहुत फायदेमंद होता है।  इसके एंटीसेप्टिक तत्वों के कारण कैविटी के ट्रीटमेंट में नमक का प्रयोग किया जाता है।  नमक मुंह के इंफेक्शन और बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने में भी सहायक है।  नमक का इस्तेमाल इस तरह करें – एक चम्मच नमक को गर्म पानी में उबालकर इस पानी से दिन में तीन चार बार कुल्ला करें।  नमक को सरसो के तेल और नींबू में मिला लें और इसका पेस्ट बना लें।  इस पेस्ट से अपने मसूड़ो में मालिश करें।  ऐसा करने से बैक्टीरिया से बचाव होगा ।

मीठे फलों से रहे दूर – कैविटी से बचने के लिए मीठे फलों से दूर रहें। अगर आप अंगूर या चीकू जैसे मीठे फल खाएंगे तो आपके दांतो में कैविटी होने की संभावना रहती है। कम मीठे व फाइबर मुक्त फलों का इस्तेमाल करें।

हल्दी का करें इस्तेमाल – हल्दी एंटी बैक्टीरियल व एंटी इंफ्लेमेटरी तत्वों से भरपूर होती है। हल्दी कैविटी से बचाव करती है। साथ ही दांत व मसूड़ों को भी स्वस्थ रखती है। दांतो में हल्दी का पाउडर लगाकर थोड़ी देर छोड़ दें।  बाद में गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें।  बैक्टीरिया प्रभावित दांतो से आराम मिलेगा।

पुदीना है प्राकृतिक उपचार – दांतो को कैविटी से बचाने में पुदीना प्राकृतिक उपचार है। आप जब भी कुछ मीठा खाएं तो उसके तुरंत बाद पुदीने की कुछ पत्तियां चबा लें। आपके दांत एकदम सुरक्षित रहेंगे।

लहसुन है लाभदायक – दांतो को कैविटी से बचाने में लहसुन बहुत फायदेमंद है। यह दर्द से राहत दिलाता है। लहसुन का प्रयोग इस तरह करें – 3-4 कलियां लहसुन की लें व इन्हे पीसकर पानी मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे दांतो में लगाकर थोड़ी देर छोड़ दें, आराम मिलेगा।