तिहाड़ जेल के कैदियों को लगाई जा रही कोरोना वैक्सीन, अब तक इतने लोगों को दिया गया टीका

तिहाड़ जेल के कैदियों को लगाई जा रही कोरोना वैक्सीन, अब तक इतने लोगों को दिया गया टीका

<p><strong>नई दिल्ली:</strong> केंद्रीय कारागार तिहाड़ में कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर जेल में बंद कैदियों को भी कोरोना वैक्सीन देने का काम शुरू हो गया है. इसके तहत अब तक कुल 363 कैदियों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. साथ ही तिहाड़ जेल की अन्य जेलों में जो कैदी इस प्रक्रिया के तहत आते हैं उन्हें भी अगले चरणों में वैक्सीन लगाने की तैयारी की जा रही हैं.&nbsp;</p>
<p>तिहाड़ जेल महानिदेशक संदीप गोयल के मुताबिक आज तिहाड़ जेल की रोहिणी सब जेल में पहली बार कोरोना वैक्सीन लगाने का कार्यक्रम शुरू किया गया और इसके तहत 50 उपयुक्त कैदियों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई. तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने रोहिणी जेल में बंद ऐसे कैदियों से जिनकी उम्र 45 साल से ऊपर थी उनसे कोरोनावायरस वैक्सीन लगवाने की बाबत उनकी इच्छा पूछी. ऐसे में 50 कैदियों ने अपनी इच्छा जाहिर की थी. जिस पर रोहिणी जेल संख्या 10 के जेल अधीक्षक सुंदर बोरा ने तिहाड़ जेल के मेडिकल ऑफिसर डॉ अजय दलाल और उत्तरी जिला वैक्सीनेशन अधिकारी के साथ मिलकर कोरोना वैक्सीन को लगाने की कार्रवाई को आगे बढ़ाया और आज बकायदा कैंप लगाकर इन लोगों को वैक्सीन लगाई गई.&nbsp;</p>
<p>तिहाड़ जेल महानिदेशक संदीप गोयल के मुताबिक, उसके पहले भी तिहाड़ जेल के मुख्य परिसर हरि नगर स्थित जेलों में कुल 262 कैदियों को और मंडोली जेल के 63 कैदियों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है, यानी कुल मिलाकर जेल के 363 कैदियों को यह वैक्सीन लगाई जा चुकी है.&nbsp;</p>
<p>ध्यान रहे कि कोरोना वायरस का खतरा लगातार तिहाड़ जेल में भी कहर बरपाता रहा है और इस साल भी अब तक तिहाड़ जेल की सभी जेलों में कुल 67 कैदियों को कोरोना हो चुका है. तिहाड़ जेल के कर्मियों को भी करोना हुआ था, लेकिन वे भी ठीक हो गए थे. लेकिन इसी महीने 2 अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच 11 जेल कर्मियो को कोरोना हो गया. इनमें एक जेल अधीक्षक भी शामिल है.</p>
<p>इसके साथ ही तिहाड़ जेल में पात्र कैदियों को कोरोना वैक्सीन लगाने के काम में तेजी लाने के लिए कहा गया था. ध्यान रहे कि कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर तिहाड़ जेल में कैदियों की उनके परिजनों से आमने सामने की मुलाकात को बंद किया जा चुका है. क्योंकि दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस को देखते हुए तिहाड़ जेल प्रशासन को यह डर है कि यदि यह मुलाकातें कराई गईं तो जेल में भी ऐसे मामलों की संख्या बढ़ सकती है. लिहाजा अगले आदेश तक इन मुलाकातों पर रोक लगाई गई है.&nbsp;</p>

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here