जानिए तब क्या हुआ था जब हार्दिक पंड्या ने 8 गेंदों में लुटा दिए थे 26 रन

Facebook

हार्दिक पंड्या ने टीम इंडिया के लिए अपना डेब्यू जनवरी 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था. लेकिन पहले ही ओवर में 21 रन लुटाने के बाद उन्हें लगा कि देश के लिए खेलने का उनका सपना खत्म हो गया.पंड्या ने अपना डेब्यू 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐडिलेड टी20 के दौरान एक और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के साथ किया था. पंड्या की शुरुआत बेहद खराब रही थी और उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनीप पहली 8 गेंदों पर 26 रन दे दिए थे, हालांकि पंड्या ने बाद में 2 विकेट लेते हुए वापसी की थी.

हार्दिक पंड्या ने अपने पहले टी20 मैच में 8 गेंदों में 26 रन लुटा दिए थे:  रिपोर्ट के मुताबिक, हार्दिक ने हर्षा भोगले से क्रिकबज के शो पर कहा, ‘मैंने अपनी पहली 8 गेंदों पर 26 रन दिए थे और ईमानदारी से कहूं तो मुझे लगा कि मेरा करियर खत्म हो गया…जब मेरे खिलाफ एक लंबा छक्का लगा, लगभग 105-119 मीटर, मैंने सोचा बस मैं खत्म हो गया. मुझे लगा कि ये इससे खराब नहीं हो सकता था और फिर अंत में मैं कुछ विकेट ले सका.’ हार्दिक ने कहा कि खराब शुरुआत के बाद एमएस धोनी ने उनसे कुछ नहीं कहा क्योंकि वह चाहते थे कि मैं खुद से सीखूं.

हार्दिक पंड्या ने कहा, ‘धोनी मेरे लिए परिवार हैं’: हार्दिक ने कहा, ‘मेरे ख्याल से वह (एमएस धोनी) चाहते थे कि मैं खुद के अनुभवों से सीखूं.’ इस ऑलराउंडडर ने धोनी के साथ अपने रिश्ते के बारे में भी बात की और बका रि पिछले दो सालों के दौरान वह पूर्व भारतीय कप्तान के काफी करीब आए हैं. हार्दिक ने कहा, ‘वह (धोनी) मेरे लिए भाई जैसे हैं. मेरे लिए वह परिवार हैं.’ पंड्या ने कहा, ‘मैं पिछले दो सालों में माही भाई के बहुत करीब रहा हूं. मुझ हैरानी हुई. मैंने नहीं जानता था कि वह इतने खुले, दोस्ताना और मजाकिया स्वभाव के हैं.’ हार्दिक ने इस बातचीत के दौरान अपनी ऑल टाइम प्लेइंग इलेवन भी चुनी और एमएस धोनी को अपनी टीम का कप्तान चुना. हार्दिक पांड्या की ऑल-टाइम आईपीएल XI: क्रिस गेल, रोहित शर्मा, विराट कोहली, एबी डिविलियर्स, सुरेश रैना, एमएस धोनी (c&wk), हार्दिक पांड्या, सुनील नरेन, राशिद खान, जसप्रीत बुमराह, लसिथ मलिंगा.

हार्दिक पंड्या ने टीम इंडिया के लिए अपना डेब्यू जनवरी 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था. लेकिन पहले ही ओवर में 21 रन लुटाने के बाद उन्हें लगा कि देश के लिए खेलने का उनका सपना खत्म हो गया.पंड्या ने अपना डेब्यू 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐडिलेड टी20 के दौरान एक और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के साथ किया था. पंड्या की शुरुआत बेहद खराब रही थी और उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनीप पहली 8 गेंदों पर 26 रन दे दिए थे, हालांकि पंड्या ने बाद में 2 विकेट लेते हुए वापसी की थी.

हार्दिक पंड्या ने अपने पहले टी20 मैच में 8 गेंदों में 26 रन लुटा दिए थे:  रिपोर्ट के मुताबिक, हार्दिक ने हर्षा भोगले से क्रिकबज के शो पर कहा, ‘मैंने अपनी पहली 8 गेंदों पर 26 रन दिए थे और ईमानदारी से कहूं तो मुझे लगा कि मेरा करियर खत्म हो गया…जब मेरे खिलाफ एक लंबा छक्का लगा, लगभग 105-119 मीटर, मैंने सोचा बस मैं खत्म हो गया. मुझे लगा कि ये इससे खराब नहीं हो सकता था और फिर अंत में मैं कुछ विकेट ले सका.’ हार्दिक ने कहा कि खराब शुरुआत के बाद एमएस धोनी ने उनसे कुछ नहीं कहा क्योंकि वह चाहते थे कि मैं खुद से सीखूं.

हार्दिक पंड्या ने कहा, ‘धोनी मेरे लिए परिवार हैं’: हार्दिक ने कहा, ‘मेरे ख्याल से वह (एमएस धोनी) चाहते थे कि मैं खुद के अनुभवों से सीखूं.’ इस ऑलराउंडडर ने धोनी के साथ अपने रिश्ते के बारे में भी बात की और बका रि पिछले दो सालों के दौरान वह पूर्व भारतीय कप्तान के काफी करीब आए हैं. हार्दिक ने कहा, ‘वह (धोनी) मेरे लिए भाई जैसे हैं. मेरे लिए वह परिवार हैं.’ पंड्या ने कहा, ‘मैं पिछले दो सालों में माही भाई के बहुत करीब रहा हूं. मुझ हैरानी हुई. मैंने नहीं जानता था कि वह इतने खुले, दोस्ताना और मजाकिया स्वभाव के हैं.’ हार्दिक ने इस बातचीत के दौरान अपनी ऑल टाइम प्लेइंग इलेवन भी चुनी और एमएस धोनी को अपनी टीम का कप्तान चुना. हार्दिक पांड्या की ऑल-टाइम आईपीएल XI: क्रिस गेल, रोहित शर्मा, विराट कोहली, एबी डिविलियर्स, सुरेश रैना, एमएस धोनी (c&wk), हार्दिक पांड्या, सुनील नरेन, राशिद खान, जसप्रीत बुमराह, लसिथ मलिंगा.