जयपुर के एसडीएम की बहन का मर्डर:घर में अकेली रह रही सरकारी टीचर की हाथ-पैर बांधकर हत्या, सुबह 7 बजे दूध लेते आखिरी बार दिखी थी

जयपुर के एसडीएम की बहन का मर्डर:घर में अकेली रह रही सरकारी टीचर की हाथ-पैर बांधकर हत्या, सुबह 7 बजे दूध लेते आखिरी बार दिखी थी

जयपुर में सोमवार को दिनदहाड़े आरएएस अफसर की बहन की बंधक बनाकर घर में हत्या कर दी गई। मृतका का नाम विद्या देवी (55) था। वह सरकारी स्कूल में टीचर थीं। वारदात के वक्त महिला शिप्रापथ इलाके के सेक्टर-23 स्थित घर में अकेले थी। घर की रेलिंग में उनका शव बंधा हुआ मिला है। वारदात की सूचना पर डीसीपी हरेंद्र महावर मौके पर पहुंचे। डॉग स्क्वायड टीम और एफएसएल टीम को भी मौके पर बुलाया गया।

शुरुआती जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने यह वारदात लूट के इरादे से होने की आशंका जाहिर की है। हालांकि, अन्य पहलूओं पर भी जांच की जा रही है। हालांकि, यह साफ नहीं हो सका है कि इस वारदात में लूट हुई है या नहीं। क्योंकि, घर पर कोई दूसरा सदस्य नहीं है। मृतका का बेटा अभिनव चतुर्वेदी भोपाल में आईटी कंपनी में नौकरी करता है। वहीं, मृतका का छोटा भाई युगांतर शर्मा आरएएस अफसर हैं। वर्तमान में वे जयपुर शहर में बतौर एडीएम तैनात हैं।

घटनास्थल पर जांच करने पहुंची पुलिस टीम।

सुबह 7 बजे दूध लेती दिखी थी महिला
पड़ोसियों के मुताबिक, आज सुबह करीब 7 बजे विद्या देवी को घर से बाहर दूध लेते हुए देखा था। इसके बाद गाय को चारा डालने भी गईं थी। फिर उनको घर के बाहर नहीं देखा गया। माना जा रहा है कि वारदात सुबह 7 से 10 के बीच हुई है। पुलिस आसपास के सीसीटीवी भी खंगाल रही है। हालांकि, हत्यारों के बारे में अब तक कोई ठोस सुराग नहीं लगा है। हत्यारे घर में कैसे घुसे या किस तरह से वारदात को अंजाम दिया। इस बारे में अभी कुछ भी पता नहीं चल पाया है।

11 jan 9 1610351269

मकान के दरवाजे पर हाथ जोड़कर खड़े हुए युगांतर शर्मा। जो सबसे पहले मौके पर पहुंचे। जिसके बाद वे अपनी बहन को लेकर साकेत हॉस्पिटल गए थे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

ऐसे हुआ हत्या का खुलासा, रोज सुबह सोशल मीडिया की डीपी बदलती थीं महिला विद्या देवी जयपुर में गुर्जर की थड़ी स्थित एक सरकारी स्कूल में टीचर थीं। वह रोज सुबह अपने सोशल मीडिया पर लड्डू गोपाल की फोटो की डीपी लगाती थी। सोमवार सुबह डीपी अपडेट नहीं होने पर ऑफिस स्टाफ ने कॉल कर उनसे संपर्क करने की कोशिश की। फोन नहीं उठा तो पड़ोस में रहने वाले राजेश जैन को फोन किया। उनसे विद्या देवी से बात करवाने के लिए कहा।

पड़ोसी राजेश जैन ने विद्या देवी को आवाज लगाई तो कोई रिस्पांस नहीं मिला। इसके बाद जैन ने अपने बेटे को मकान के ऊपर की छत से उनके घर में जाकर देखने के लिए कहा। बेटे ने छत से झांककर देखा तो वह सहम गया। महिला के हाथ-पैर बंधे थे, शव भी रेलिंग से बंधा हुआ था। महिला की लाश देख वह डर गया और नीचे आकर दरवाजा खोला। इसके बाद पड़ोसी अंदर पहुंचे।

11 jan 7 1610350007

डीसीपी क्राइम दिगंत आनंद और एडीसीपी क्राइम सुलेश चौधरी मौके पर जांच करने पहुंचीं।

10 से ज्यादा अधिकारियों समेत 50 लोगों की टीम जांच में जुटी
घटना की जानकारी मिलने पर डीसीपी क्राइम दिगंत आनंद , डीसीपी साउथ हरेंद्र महावर, एडीसीपी सुलेश चौधरी, एडीसीपी साउथ अवनीश कुमार, जिला स्पेशल टीम, कमिश्नरेट की स्पेशल टीम, 4 आरपीएस रैंक के अधिकारी और 6 इंचार्ज समेत 50 लोगों की टीम जांच में जुटी है। पुलिस की टीम ने पूरी कॉलोनी की अलग-अलग पूछताछ कर रही है। आसपास के सभी मकानों में जांच की जा रही है।

11 jan 10 1610351398

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here