गजब अविष्कार : घर बैठे मिस कॉल से चलेगा ट्यूबवैल

गजब अविष्कार : घर बैठे मिस कॉल से चलेगा ट्यूबवैल

हरियाणा के एक छात्र ने अपने किसान पिता की समस्या सुलझाने के लिए गजब का अविष्कार किया है। छात्र ने ऐसी डिवाइस बनाई है जिससे घर बैठे खेत की सिंचाई हो जाएगी। जानेंं कैसे ?

तकनीक के जमाने में हर मुश्किल आसान हो गई है। इसका ताजा उदाहरण सोनीपत के एक गांव में देखा जा सकता है। अपने पिता की समस्या का तकनीकी हल ढूंढ़ निकाला है गांव मुकिमपुर निवासी बीटेक कंप्यूटर साइंस के छात्र नीरज ने।

नीरज ने ऐसी तकनीक ईजाद की है जो खेत में लगे ट्यूबवेल को घर बैठे कंट्रोल करेगी। किसान परिवार में जन्मे नीरज ने एक ऐसा डिवाइस बनाया, जिसके माध्यम से मात्र मोबाइल से मिस कॉल करके खेत में लगे ट्यूबवेल को ऑपरेट किया जा सकेगा। फिलहाल नीरज इस डिवाइस को अपने खेत में लगाकर इसका फायदा उठा रहे हैं। वह इस तकनीक को हर किसान तक पहुंचाना चाहता है।

पिता की परेशानी देख की खोज

शहर के एक निजी कॉलेज से बीटेक की पढ़ाई कर रहे नीरज बताते हैं कि उनका परिवार गन्नौर की गांधी कालोनी में रह रहा है, जबकि खेती गांव मुकिमपुर में है। पिता अक्सर पानी देने के लिए गन्नौर से जाकर पूरी रात खेत में ही रहते। सर्दी-गर्मी हर मौसम में सिंचाई की यही प्रक्रिया रहती। बिजली गुल होते ही ट्यूबवेल बंद हो जाता, जिसे दोबारा चलाने के लिए वहां रहना जरूरी था। पिता की परेशानी देख मन में ऐसी डिवाइस बनाने की प्रेरणा मिली।

मिस कॉल से ऑपरेट होता है ट्यूबवेल

इस डिवाइस में एक मोबाइल ट्यूबवेल के साथ लगने वाले डिवाइस में जोड़ा गया है, जिस पर मिस कॉल करने पर ट्यूबवेल चल पड़ता है। वहीं दो बार मिस कॉल देने पर ट्यूबवेल अपने आप बंद भी हो जाता है।

इसी तरह बिजली गुल होने पर खेत में लगे डिवाइस से किसान के मोबाइल पर एक और बिजली आने आने पर दो मिस कॉल आएंगी। इसके बाद वापस मिस कॉल करने पर ट्यूबवेल चलेगा व बंद होगा। आने वाले समय में नीरज के इस आइडिया से किसानों की लाइफ काफी बदल सकती है। वहीं उनके लिए सिंचाई काफी आसान होगी।

Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here