कोरोनाकाल में न घबराएं शुगर के मरीज, ये छिलका खाएं सब कंट्रोल रहेगा – Stress Buster

कोरोनाकाल में न घबराएं शुगर के मरीज, ये छिलका खाएं सब कंट्रोल रहेगा - Stress Buster

मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए एक स्वस्थ जीवन शैली और सही भोजन करना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि मधुमेह के रोगियों में रक्त शर्करा बहुत जल्दी बढ़ जाता है, विशेष रूप से इस कोरोनल अवधि में, मधुमेह रोगी बहुत डरते हैं। ऐसी आशंकाएं हैं कि यदि कोई संक्रमण होता है, तो इससे मधुमेह का खतरा बढ़ सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी रसोई में चीनी को नियंत्रित करने का राज छिपा है। एक शोध के अनुसार, केले के छिलके में पाया जाने वाला फ्लेवोनोइड्स बहुत तेजी से शुगर को नियंत्रित करता है।

केले के छिलके में कितने तत्व?
शोध से पता चला है कि केले के छिलके के कई फायदे हैं। इसमें ट्रिप्टोफैन (आवश्यक अमीनो एसिड), विटामिन-सी, बी 6, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फ्लेवोनोइड्स और एंटीऑक्सीडेंट के गुण होते हैं, जो कई बीमारियों में फायदेमंद होते हैं। इसमें पाया जाने वाला फ्लेवोनोइड मधुमेह रोगियों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। फ्लेवोनोइड्स रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके अलावा, केले के छिलके में फाइबर होता है, जो वजन बढ़ाने को नियंत्रित करने में मदद करता है।

कैसे करें सेवन?
कई शोधों में, केले के छिलके को सुपरफूड माना गया है। केले के छिलके को उबालकर नाश्ते के रूप में सेवन किया जा सकता है। साथ ही केले के छिलके का पाउडर भी बाजार में उपलब्ध है। इसका उपयोग दूध या पानी में किया जा सकता है। कई शोधों ने साबित किया है कि इसे सुबह खाली पेट लेने से शुगर नियंत्रण में रहती है। हालाँकि, केले के छिलके के सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह ज़रूर करें

केला कितना उपयोगी है?
केला सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। अगर कोई वजन बढ़ाना चाहता है, तो हमेशा केले शेक पीने की सलाह दी जाती है। शोध में यह बात सामने आई है कि एक दिन में 6 केले खाने से एक हफ्ते में आधा किलो वजन बढ़ सकता है। यही नहीं, केले के पत्ते, फूल और छिलके भी बहुत फायदेमंद होते हैं


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here