कॉन्वे ने तोड़ा सौरव गांगुली का 25 साल पुराना रिकॉर्ड, डेब्यू टेस्ट में किया ये कारनामा

कॉन्वे ने तोड़ा सौरव गांगुली का 25 साल पुराना रिकॉर्ड, डेब्यू टेस्ट में किया ये कारनामा

डेवन कॉन्वे एक दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर जो अब न्यूजीलैंड की ओर से खेल रहे हैं। उन्होंने लॉर्ड्स में अपने डेब्यू टेस्ट में सौरव गांगुली के ऐतिहासिक रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

 

नई दिल्ली। BCCI के अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly ) का 25 साल पुराना रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज डेवन कॉन्वे (Devon Conway) ने तोड़ दिया है। दरअसल, गांगुली के नाम डेब्यू टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज था। अब डेवन कॉन्वे डेब्यू टेस्ट में 136 रनों की पारी खेलकर इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया है। उन्होंने अपनी इस उपलब्धि को हासिल करने के बाद कहा कि अपनी प्रतिभा को दिखाने के लिए समय चाहिए।

यह भी पढ़ें—BCCI हुआ सख्त, IPL 2021 पूरा नहीं खेलने पर विदेशी खिलाड़ियों की कटेगी सैलरी

गांगुली ने इंग्लैंड के खिलाफ किया था टेस्ट डेब्यू
कॉन्वे ने लॉडर्स के मैदान पर खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन बुधवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने पदार्पण टेस्ट में नाबाद 136 रनों की पारी खेली। उनसे पहले गांगुली ने 1996 में इंग्लैंड दौरे के दौरान लॉडर्स में अपने पदार्पण टेस्ट के दौरान 131 रनों की पारी खेली थी।

ये 4 बल्लेबाज भी लगा चुके डेब्यू टेस्ट में शतक
कॉन्वे और गांगुली के अलावा चार अन्य बल्लेबाज भी लॉडर्स में अपने पदार्पण टेस्ट में शतक लगा चुके हैं। कॉन्वे लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर अपने डेब्यू मैच में शतक जड़ने वाले तीसरे विदेशी बल्लेबाज बने। उनसे पहले हैरी ग्राहम (1893) और सौरव गांगुली (1996) ये कारनामा कर चुके हैं।

सोचा नहीं था ऐसी बेहतर शुरुआत होगी
कॉन्वे ने पहले दिन के खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘यह मेरे लिए बहुत शानदार पल है। मैं अपने टेस्ट कॅरियर की इससे बेहतर शुरुआत के बारे में सोच भी नहीं सकता था। मेरा न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन के साथ कुछ दिन पहले एक रूपांतरण हुआ था और मैंने उनसे पूछा कि ऑनर्स बोर्ड में होना कैसा लगता है? और पहली बात उसने मुझसे कही थी अब आप जानते हैं।’

यह भी पढ़ें— क्रिकेट के कौन से नियम में लिखा है कि 30 की उम्र के बाद टीम में चयन नहीं हो सकता: शेल्डन जैक्सन

विलियम्सन भी लगा चुके हैं लॉर्ड्स में शतक
विलियम्सन भी लॉडर्स में शतक लगा चुके हैं। कॉनवे जन्म से दक्षिण अफ्रीकी हैं और 2017 में न्यूजीलैंड आने से पहले तक वह जोहान्सबर्ग में रहते थे। उन्होंने कहा, ‘इस अवसर को पाने के लिए एक बहुत ही खास एहसास है। निश्चित रूप से मैंने इसके बारे में (डेब्यू टेस्ट में शतक बनाने) के बारे में नहीं सोचा था जब मैंने (न्यूजीलैंड में) कदम रखा था। अभी टेस्ट डेब्यू कर रहा हूं, इस स्तर पर खेलने का मौका मिल रहा है। मैं उन अवसरों के लिए बहुत आभारी हूं जो वेलिंगटन ने मुझे दिए हैं।’








Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here