एक हादसे में खो दी इस एक्ट्रेस ने अपनी एक आंख, मौत भी हुई दर्दनाक

Lalita Pawar

नई दिल्ली। हिंदी सिनेमा जगत की मशहूर दिवंगत अदाकारा ललिता पवार का आज जन्मदिन है। एक्ट्रेस का जन्म आज ही के दिन यानी कि 18 अप्रैल को नासिक में हुआ था। उन्होंने अपने एक्टिंग करियर में लगभग 700 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है। साथ ही उन्होंने कई अलग-अलग किरदार भी निभाए हैं। जब-जब ललिता पवार बड़े पर्दे पर आती लोगों के दिलों और दिमाग पर अपनी छाप छोड़ जाती। आज भी ललिता पवार के ललाची सास और मंथरा का किरदार फेमस है। चलिए आज आपको एक्ट्रेस की जिंदगी से जुड़े कुछ किस्सों के बारें में बतातें हैं।

सबसे महंगी एक्ट्रेस थीं ललिता पवार

ललिता पवार ने बचपन से ही एक्टिंग करना शुरू कर दिया था। फिर जब वह बड़ी हुईं तो उनके पास फिल्मों की लंबी लाइन लग गई। फिल्मों में ललिता को उनकी खूबसूरती की वजह से भी जाना जाता था। यही वजह थी कि उन्हें जल्द फिल्में भी मिल जाया करती थी। बताया जाता है कि ललिता पवार को उनकी खूबसूरती और एक्टिंग के चलते खूब काम मिलता था। साथ ही उनकी फीस भी बाकी अभिनेत्रियों से कई ज्यादा थी। वह उस जमाने की सबसे महंगी एक्ट्रेस मानी जाती थीं।

एक हादसे ने बदल डाली पूरी जिंदगी

बॉलीवुड में अपनी खूबसूरती और शानदार कला की वजह से मशहूर ललिता पवार के साथ एक ऐसा हादसा हुआ जिसने हमेशा के लिए उनकी जिंदगी बदल डाली। साल 1942 में फिल्म जंग-ए-आजादी की शूटिंग चल रही थी। फिल्म में ललिता पवार संग एक्टर भगवान दादा थे। फिल्म में एक सीन था। जिसमें भगवान दादा को ललिता पवार को थप्पड़ मारना था। सीन के दौरान भगवान दादा ने गलती से इतनी तेज थप्पड़ मार दिया कि वह जमीन पर ही गिर गई।

Lalita Pawar

एक्ट्रेस को मार गया लकवा

जमीन पर बेहोश पड़ी ललिता पवार को अस्पतला ले जाया गया। उनके कान से खून निकल रहा था। जहां इलाज के दौरान एक डॉक्टर ने गलत दवाई दे डाली। जिसके खाने से उनका दाहिना हिस्सा लकवा मार गया। काफी समय तक इलाज चलने के बाद ललिता ठीक तो हो गई लेकिन उनकी एक आंख छोटी हो गई और हमेशा के लिए ललिता का खूबसूरत चेहरा खराब हो गया।

मंथरा से मिली खूब पहचान

चेहरा बिगड़ने के बाद ललिता को हीरोइन का रोल मिलना बंद हो गया। लेकिन उन्हें फिल्मों में फिर चालक सास, वैम्प और लालची औरत का रोल ऑफर होने लगा। लेकिन तब भी दर्शकों ने एक्ट्रेस को खूब प्यार दिया। ललिता पवार को रामानंद सागार की ‘रामायण’ में निभाए अपने ‘मंथरा’ के किरदार से वह घर-घर में एक अलग पहचान हासिल कर चुकी थीं। आज भी उनका मंथरा वाला किरदार कई लोगों के जहन में ताजा होगा।

Lalita Panwar

कैंसर से हो गई थी मौत

बताया जाता है अंतिम दिनों में ललिता पवार अकेले पड़ गई थीं। उन्हें जबड़े का कैंसर हो गया था। जिससे उनकी मौत हो गई थी। उनकी लाश करीबन तीन दिनों तक घर पर ही पड़ी हुई थी। बताया जाता है कि जिस दौरान ललिता पवार बीमार थीं। उस दौरान उनके बेटे उनसे अलग होकर मुंबई में रहते थे। वहीं उनके पति राजप्रकाश उस दौरान हॉस्पिटल में भर्ती थे। बताया जाता है कि जब उनके बेटे ने घर पर फोन किया और ललिता ने उठाया नहीं तो जब वह आए और घर का गेट खोला तो पता चला कि उनकी मौत हो गई है।


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here