इश्क की खौफनाक सजा, 10 साल की बेटी के सामने ही आशिक ने कर दिए मां के टुकड़े

agra crime 1603987850209 1603987871856इश्क की खौफनाक सजा, 10 साल की बेटी के सामने ही आशिक ने कर दिए मां के टुकड़े ( दांय- हत्यारोपी और बांय महिला की मासूम बेटी)

आगरा. ताजनगरी आगरा में एक प्रेमी ने विवाहित प्रेमिका को उसकी 10 साल की बेटी के सामने ही मौत के घाट उतार डाला. पुलिस ने इस मामले में हत्या का आरोपी प्रेमी सहित चार लोगों को जेल भेज दिया है. पुलिस का कहना है कि मामले में बेटी चश्मदीद गवाह है. उसके कलामबंद बयान दर्ज कराए जाएं. उसका बयान ही आरोपी को सजा दिलाने के लिए काफी है. आरोपी ने महिला के टुकड़े-टुकड़े कर दिए थे, इस वजह से पुलिस को शव के अवशेष नहीं मिले हैं. मामले की जांच की जा रही है.

आगरा एसएसपी बबलू कुमार के अनुसार किरावली के इकराम नगर निवासी 38 साल की मंजू का विवाह 20 साल पहले रनवीर के साथ हुई थी. दोनों के चार बेटियां हैं. करीब साल भर पहले से ही पति से अनबन की वजह से मंजू ने बेटियों को लेकर घर छोड़ दिया और गुजर-बसर के लिए बेलदारी करने लगी. इस दौरान उसकी मुलाकात उमेश से हुई. दोनों ने साथ रहना शुरू कर दिया.

मंजू की एक बेटी की शादी हो चुकी थी, दो को उसने अपने मायके छोड़ दिया और एक 10 साल की बेटी को अपने साथ रखने लगी. बीते 17 सितंबर किसी विवाद के बाद उमेश ने गुस्से में आकर मंजू के टुकड़े-टुकड़े कर दिए.

मासूम 10 साल की बेटी ने घर से भागकर अपनी बड़ी बहन पिंकी को हत्या की जानकारी. उसने अपने पिता को मां की हत्या के बारे में बताया. जगदीशपुरा थाने में रनवीर की तहरीर पर उमेश व उसके पिता फाल सिंह, भाई राधेश्याम व उसके साले टिंकू के खिलाफ केस दर्ज किया गया. चारों को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है.