आप प्यार से दूर भागती हैं?

सुनीता मेनन, 29 वर्षीया, मार्केटिंग एग्ज़ेक्यूटिव स्वीकारती हैं कि उन्हें रिश्तों को लंबे समय तक बनाए रखने में मुश्क़िल होती है. वे कहती हैं,“शुरुआती महीने बिल्कुल सही होते हैं, लेकिन थोड़े समय बाद पता नहीं कैसे वही दिक़्क़तें दोबारा आ जाती हैं. लड़के को ज़्यादा वक़्त साथ गुज़ारना होता है, लेकिन मुझे मेरा निजी स्पेस चाहिए होता है. यह एक कभी न ख़त्म होनेवाली प्रक्रिया बन गई है.”
सुनीता अलग-थलग रहनेवाली यानी आइसोलेटर प्रवृत्ति की हैं. वे उनमें से हैं, जो बहुत ज़्यादा निजी स्पेस की उम्मीद में दूसरों को अनजाने ही ख़ुद से दूर धकेलते हैं. वहीं इसके बिल्कुल उल्टा कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो किसी के साथ रिश्ते में बंधते ही अपने परिवार और दोस्तों से एकदम कट से जाते हैं. ऐसे लोगों को फ़्यूज़र कहा जाता है. वे अपना ज़्यादा से ज़्यादा वक़्त अपने पार्टनर के साथ बिताने के लिए बाक़ी सभी को भूल जाते हैं.
आपको लग रहा होगा कि ये दोनों तरह के लोग कभी एक नहीं हो सकते. लेकिन हार्विल हेन्ड्रिक्स ने अपनी किताब गेटिंग द लव यू वॉन्ट में लिखा है,“मज़े की बात यह है कि आइसोलेटर और फ़्यूज़र ये दोनों विपरीत प्रवृत्ति वाले लोग एक-दूसरे के साथ रिलेशनशिप रखते हैं और शादी भी कर लेते हैं. जिससे दोनों के बीच खींचतान शुरू हो जाती है और इस रिश्ते में दोनों ही ख़ुश नहीं रह पाते.”
इसलिए आप इस पूरी रेंज में कहां आते हैं, यह जानना बहुत ज़रूरी है, ताकि आप उस चीज़ से बाहर आ सकें, जो आपके लिए सही नहीं ठहरती. रिश्ते को आगे ले जाने में यह मददगार भी साबित हो सकता है. तो आप कैसे पता करेंगी कि आप आइसोलेटर हैं या फ़्यूज़र? जानने के लिए यह क्विज़ खेलें.

किसी पार्टी में एक आकर्षक पुरुष आपमें रुचि दिखाता है, तो ऐसी स्थिति में आप क्या करेंगी?

1. बिल्कुल आश्चर्य के साथ आप उसे देखती हैं, क्योंकि आपका बॉयफ्रेंड आपके बगल में खड़ा होता है.
2. मैं बहुत ख़ुश हो जाऊंगी, लेकिन उसे बता दूंगी कि मैं एक रिश्ते में हूं.
3. आप मुझसे उम्मीद भी कैसे कर सकते हैं कि मैं उसके साथ फ़्लर्ट न करूं.

आपका ग्रुप वीकएंड पर आउटिंग करने की योजना बनाता है. और उसके बारे में आपका पहला ख़्याल होता है…
1. अपने पार्टनर के बिना जाने का कोई मतलब ही नहीं. मैं सोच रही हूं कि इस योजना में न शामिल होऊं.
2. वाह! ख़ूब मज़ा आएगा, लेकिन मुझे अपने पार्टनर को बता देना चाहिए कि मैं इस वीकएंड यहां नहीं रहूंगी.
3. मेरे बैग्स तैयार हैं. अब इंतज़ार किस बात का है? चलें!

आपके बॉस ने कोई मीटिंग कैंसल कर दी और आपकी पूरी शाम ख़ाली पड़ी है, तो आप क्या करेंगी?
1. मैं और मेरा बॉयफ्रेंड बेडरूम से बाहर नहीं आएंगे.
2. मैं ज़रूरी कामों को पूरा करूंगी, जॉगिंग या शॉपिंग पर जाऊंगी. या फिर देखूंगी कि क्या मेरा पार्टनर फ्री है.
3. मैं किसी दोस्त को फ़ोन करूंगी और उससे मिलने की कोशिश करूंगी. क्योंकि प्यार से पहले दोस्ती आती है.

एक सफल रिश्ते का सबसे अहम् पहलू है…
1. साथ में वक़्त गुज़ारना! जब तक हम दोनों एक-दूसरे के साथ हैं, सबकुछ ठीक ही होगा.
2. संतुलन. अपनी प्राथमिकताएं पहले तय कर लें.
3. रिश्ते के अलावा भी ज़िंदगी में बहुत कुछ है. मैं पूरा का पूरा समय अपने पार्टनर को समर्पित नहीं कर सकती.

आप अपने पार्टनर के साथ औसतन कितना वक़्त गुज़ारती हैं?
1. हर दिन का हर ख़ाली मिनट. क्योंकि वह मेरा हमसफ़र है!
2. हम सप्ताह में दो दिन साथ बिताते हैं. लेकिन हम ज़्यादा वक़्त के बजाय क्वॉलिटी टाइम पर ध्यान देते हैं.
3. मैं अकेले ही काफ़ी हूं. जब मेरा मन करता है, तब मैं अपने पार्टनर के साथ घूमती-फिरती हूं.