अर्नब गोस्वामी को महाराष्ट्र पुलिस ने किया गिरफ्तार, सीएम भूपेश बघेल बोले- मैं अर्नब को पत्रकार ही नहीं मानता

arnab goswami

इंटीरियर डिजाइनर को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बोले- उनकी भाषा को नहीं कह सकते पत्रकारिता

पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने कहा इमरजेंसी के दिन याद आ गए

रायपुर. रिपब्लिक टीवी के मालिक और मुख्य संपादक अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मैं अर्नब गोस्वामी को पत्रकार ही नहीं मानता हूं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बोले कि अर्नब गोस्वामी जिस भाषा का इस्तेमाल करते हैं और जिस एजेंडे पर चल रहे हैं, वो पत्रकारिता नहीं हो सकती।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर कहा कि यह लोकतंत्र की आवाज दबाने की कोशिश है। डॉ. रमन सिंह बोले कि ऐसा लगता है जैसे महाराष्ट्र में आपातकाल लग गया है। मुझे आपातकाल के दिन याद आ रहे हैं।

बता दें कि महाराष्ट्र पुलिस ने बुधवार सुबह रिपब्लिक टीवी के मालिक और मुख्य संपादक अर्नब गोस्वामी के घर पर छापा मारा और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सचिन वैज ने कहा कि गोस्वामी को 2018 के आत्महत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया है। यह मामला पहले बंद हो गया था, जिसे अब फिर से खोला गया है।

बता दें कि इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक व उसकी मां ने 2018 में खुदकुशी की थी। आरोप है कि अर्नब गोस्वामी ने 5.40 करोड़ रुपए का भुगतान नहीं किया। कथित सुसाइड नोट में अर्नब गोस्वामी व अन्य दो पर आरोप लगाए थे।